गुरुवार, 31 मई 2012

आई. पी. एल. - यह खेल अपने को हज़म नहीं होता ..................

आई. पी. एल. ........यह खेल अपने को हज़म नहीं होता ....................

यह खेल अपने को हज़म नहीं होता 
जीत जाए कोई तो खुशी नहीं होती 
किसी के हारने पर ग़म नहीं होता |

इसमें ............

मिर्च मसाले हैं 
ग्लैमर के तड़के डाले हैं 
दर्शक ठुमकों के मतवाले हैं 
खेल देखना छोड़ कर 
चीयर गर्ल्स पर नज़र डाले हैं |

इसमें ...............

काले धन की बरसात है 
थप्पड़, घूंसे, छेड़खानी 
गाली - गलौच और लात है 
हर मैच के बाद 
शराब, शबाब और 
नशे में डूबी रात है |

इसमें ...................

फ़िल्मी  हस्तियाँ छाई हैं 
धनकुबेरों  की बन आई है 
खेल से इनका बस इतना ही लेना 
जब हुए नीलाम खिलाड़ी 
तब इनकी अंधी कमाई है |

इसमें .................

सट्टेबाजी, धोखेबाजी 
जालसाज़ी  
सिक्स भी यहाँ फिक्स है 
इस पूरे कॉकटेल में 
खेल की मात्रा कम हो गई 
पैसा ज्यादा मिक्स है |

इसको .....................

एक खेल कहना 
खेल का अपमान है 
पावर, पैसा, पाप 
आई. पी. एल. का फुल्फोर्म है |

साथियों .........................

खेल यह ऐसा आया 
कौन अपना है कौन पराया 
आज तक समझ ना आया |
किस चौके पर खुश हो जाऊं ?
किस छक्के पर नाचूँ, गाऊं ?
किस विकेट पर ताली बजाऊं ?
किसकी जीत पर तिरंगा लहराऊं ?
भारतवासी होने पर इतराऊं ?
टीमों की लम्बी लिस्ट में 
किसको रखूं याद 
किसको भूल जाऊं ?

देख के ऐसा खेल दिल मेरा रोता है 
यह खेल अपने को हज़म नहीं होता है 
जीत जाए कोई तो खुशी नहीं होती 
किसी के हारने पर ग़म नहीं होता |




14 टिप्‍पणियां:

  1. हाजमोला खाइये। आई.पी.एल. हजम कर जाइये। :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. हज़म तो ये कि‍सी को भी नहीं होता पर क्‍या कों लोग, जीभ का स्‍वाद है ना

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत बेहतरीन व प्रभावपूर्ण रचना....
    मेरे ब्लॉग पर आपका हार्दिक स्वागत है।

    उत्तर देंहटाएं
  4. काहे जी माहटरनी जी , छुट्टियां चल रही हैं तो आप काहे नय हजमोला का शर्बत बना बना के इसको हजम करती हैं । एकदम करारा बजाई हैं इसका ढोल आप कि पूरा पोल ही खोल कर रख दिया आपने तो । कमाल एंड धमाल

    उत्तर देंहटाएं
  5. क्रिकेटर्स जब से बिकाऊ हो गये
    मैच के मज़े उबाऊ हो गये ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. किस चौके पर खुश हो जाऊं ?
    किस छक्के पर नाचूँ, गाऊं ?
    किस विकेट पर ताली बजाऊं ?
    किसकी जीत पर तिरंगा लहराऊं ?ekdam theek baat bolin....yahi sthiti rahti hai.

    उत्तर देंहटाएं
  7. ----------------------------------------------
    चना जोर गरम की तर्ज पर .......................
    I.P.L जोर गरम ,लाया मैं बाबू ,I P L जोर गरम......
    इसमें शाहरुख़ जैसा सितारा ,
    जिसका गिरता , चढ़ता पारा ,
    जिसने सुरक्षा गार्ड को दुत्कारा ,
    जो है, कलकत्ता का प्यारा ||
    I P L जोर गरम लाया मैं बाबू ,I P L जोर गरम .......
    इसमें रातें बनती हैं, रंगीन,
    लेकर व्हिस्की और नमकीन ,
    "ल्यूक "जैसी लव- मशीन ,
    खताएं करती हैं, संगीन |
    I P L जोर गरम लाया मैं बाबू , I P L जोर गरम .......
    इसका B C C I है, रखवाला ,
    इसमें धन लग रहा काला,
    नाचें गोरी, रुसी बाला ,
    क्रिकेट भाड़ में जाए साला ||

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत बड़े खेल तमाशा ही हमें भी लगता है यह..
    बहुत बढ़िया सार्थक प्रस्तुति.

    उत्तर देंहटाएं
  9. .

    अपने को भी हज़म नहीं होता !
    यह खेल आई. पी. एल. हज़म नहीं होता !


    आपने कविता में मेरे भी मन की बात कही है …

    मंगलकामनाओं सहित…
    -राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं