गुरुवार, 25 अगस्त 2011

जो अनशन पर बैठा है वो बिलकुल स्वस्थ है, फिर ये कौन हैं जिनकी हालत पस्त है ?

 
इनकी ...........................
 
आए दिन ज़ुबान फिसल रही है
अक्ल काम नहीं कर रही है |
 
ब्लड प्रेशर हाई है
चेहरे पर उड़ी हवाई है |
 
सीने में जलन है
आवाज़ में कम्पन है |
 
पसीना पोछ रहे हैं  
''कल क्या होगा'' सोच रहे हैं |
 
सांस में सांस अटकी है
गले में फांस अटकी है |
 
चेहरा सिकुड़ा है
शरीर निचुड़ा है |
 
हौसले पस्त हैं
चाल सुस्त है |
 
पैर लड़खड़ा रहे हैं
भीड़ देखकर हड़बड़ा रहे हैं |
 
उम्मीदें  बुझी - बुझी हैं
कमर झुकी - झुकी है |
 
रीढ़ टूट गई है
नींद रूठ गई है |
 
आँखों से दिखाई नहीं देता
कानों से सुनाई नहीं देता |
 
सारे रंग उड़े हुए हैं
दस दिनों में बूढ़े हुए हैं |
 
जो अनशन पर बैठा है वो बिलकुल स्वस्थ  है
फिर ये कौन हैं जिनकी हालत पस्त है ?
 
 
 
 
 
 
 
 

16 टिप्‍पणियां:

  1. गिरगिटों की जमात है शेफ़ाली जी ये तो :)
    बढिया है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. ये मोटी चमड़ी वाले नेतागन इतना भी नहीं सोचते कि अपने घर का बुजुर्ग १० दिन से भूखा बैठा है........ उसकी सुनी जाये..
    उफ़...


    इन्हीं की हालत पस्त है..

    उत्तर देंहटाएं
  3. गहन कटाक्ष ...

    सारे सांसदों का भी कम से कम ब्लड प्रेशर चेक करवा लेना चाहिए ..

    उत्तर देंहटाएं
  4. पुण्‍यात्‍मा स्‍वस्‍थ है .. पापात्‍मा पस्‍त है !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. @@फिर ये कौन हैं जिनकी हालत पस्त है ?.
    बहुत खूब.

    उत्तर देंहटाएं
  6. फ़िर भी ये नालायक रास्ते पर नही आ रहे हैं, सशक्त रचना.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  7. अन्‍ना हजारे ने कहा कि देश में जनतंत्र की हत्‍या की जा रही है और भ्रष्‍ट सरकार की बलि ली जाएगी। यानि खून के बदले खून?

    उत्तर देंहटाएं
  8. अब तो अनशन करने वालों की भीड़ लगी है जी! :)

    उत्तर देंहटाएं