शनिवार, 1 अप्रैल 2017

वैधानिक चेतावनी - यह अप्रैल फूल नहीं है ।

अभी - अभी अपुष्ट सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि शिव तांडव सेना के माननीय रविन्द्र रिलेक्सो गायकवाड़ ने देश की जनता से वादा किया है कि वे अबसे पैरों में  कभी चप्पल या जूते नहीं पहिनेंगे । 

देश का सबसे ज्वलंत मंदिर - मस्जिद का मुद्दा सुलझा लिया गया है । विवादित जगह पर ड्यूप्लेक्स बनवा दिया जाएगा । नीचे की मंज़िल पर मंदिर और ऊपर  के हिस्से में मस्जिद का निर्माण होगा । श्रद्धालु पहले मंदिर जाएंगे उसके पश्चात उनका मस्जिद में इबादत करना अनिवार्य होगा, ऐसा नहीं करने वालों को  दंडस्वरूप निर्मल बाबा के प्रवचन सुबह - शाम सुनवाए जाएंगे ।       

उत्तर प्रदेश में सरकारी कार्यालयों में गुटखा खाने से तत्काल प्रभाव से पाबंदी हटी । पाबंदी के दौरान जनता ने पाया कि गुटखा खाना बैन होने से सरकारी कर्मचारियों द्वारा मुंह खोल कर साफ़ शब्दों में घूस लेने की मात्रा में बहुत इजाफा हो गया था इससे त्रस्त जनता ने सामूहिक रूप से मुख्यमंत्री से अपील करके सभी कर्मचारियों के लिए दफ्तर में काम के समय गुटखा खाना अनिवार्य करवा दिया है । 

देश भर में एंटी - रोमियो स्क्वाड के बदले 'एंटी रोमांटिक स्क्वाड' का  गठन किया गया है । इसमें उन पति - पत्नियों को पकड़ कर हवालात में डाला जाएगा जो सार्वजनिक स्थानों पर चलते हुए एक - दूसरे को ' मैं तेरी दुश्मन, दुश्मन तू मेरा ' वाली निगाहों से देखते हैं और हर प्रेमी जोड़े को प्रेम के चक्कर में न पड़ने की मुफ्त सलाह बांटते फिरते हैं । 

मायावती ने विधान सभा चुनावों के दौरान हुई अपनी पार्टी की करारी हार स्वीकार कर ली है । उन्होंने मान लिया है चुनावों के दौरान कि ई.वी.एम. के साथ कोई छेड़ - छाड़ नहीं हुई थी बल्कि जनता ने ही इस बार पार्टी के साथ छेड़ - छाड़ कर दी थी । जनता का मन है चाहे तो छेड़ दे चाहे तो छोड़ दे ।  

सांसद मनोज तिवारी ने शिक्षिका के साथ दुर्व्यवहार पर '' गुरु - गोविन्द दोउ खड़े, काके लागूं पांय '' सस्वर गाकर माफी मांग ली है । 

प्रधानमंत्री जी की 'घर वापसी' हो गयी है । क्योंकि विदेश में कोई उनकी बात अब सुन नहीं रहा है, अतः इस वर्ष वे देश में ही बने रहेंगे और जनता से हर महीने के स्थान पर हर दिन अपने मन की बात किया करेंगे ।   

सोशल मीडिया में मौजूद भक्त लोग अपने भगवान् की आलोचना को स्वस्थ भाव से ग्रहण कर रहे हैं । गाली - गलौच, माँ - बहिन एक करना इत्यादि बंद हो चुका है ।  सरकारी नीतियों का विरोध करने पर भक्तों द्वारा लाव - लश्कर लेकर टूट पड़ने की प्रवृत्ति बंद हो चुकी है । ।  

राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी के नए अध्यक्ष बन गए हैं । अब वे आने वाले लोक - सभा के चुनाव में अपनी फटी जेब में हाथ डालेंगे और जादू से सीटें निकाल कर दिखाएंगे । 

जनता ए.टी.एम. से जितनी बार भी चाहें, नोट निकाल सकते हैं । अपने खाते में रकम न होने की दशा में दूसरे के खाते से रूपये निकालने की सुविधा देने पर आर. बी. आई. गंभीरता से विचार कर रहा है । 

टुंडे कबाब का मामला भी शांत होता नज़र आ रहा है। टुंडा प्रेमी घर में अपनी पत्नियों के हाथ का बना टिंडा ही टुंडा समझ कर बड़े ही स्वाद से खा रहे हैं । 

सोशल मीडिया ने कसम खा ली है कि आज से वे केजरीवाल और राहुल के ऊपर चुटकुले न तो बनाएँगे और न ही फॉरवर्ड करेंगे । दोनों को इस साल नेता का दर्जा दे दिया जाएगा इसके लिए संसद के दोनों सदनों में बिल लाया जाएगा । 

जियो ने घोषणा करी है कि जो लोग पिछले साल से जियो की मुफ्त सेवाओं का लाभ ले रहे हैं, उन्हें आने वाले सौ सालों तक मुफ्त सुविधा मिलती रहेगी । यह मुफ्त सुविधा ग्राहक के मरने के बाद भी जारी रहेगी । 

अखिलेश यादव ने हार के बाद मुलायम सिंह यादव से 'नेताजी' न कह कर 'पिताजी' कहना शुरू करदिया है। अब वे सड़कों पर ''यू.पी. को मैं माई - बाप पसंद है '' गाते हुए सुनाई दे जाते हैं । 



3 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (04-04-2017) को

    "जिन्दगी का गणित" (चर्चा अंक-2614)
    पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    विक्रमी सम्वत् 2074 की
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं
  2. Great work. Thanks for being a part of teacher community.- Dr. Gokul Singh Martolia, Lecturer (Biology), G.I.C. Gunialekh, Nainital

    उत्तर देंहटाएं